Health Tips On Phobia (फोबिया)

0
17
Phobia Kya Hai Health Tips On Phobia in Hindi Phobia Types
Phobia Kya Hai | Health Tips On Phobia in Hindi | Phobia Types

Phobia Kya Hai | What is Phobia: अक्सर आपने देखा होगा की अक्सर लोग सांप से डरते हैं, कुछ लोग कुत्तों से डरते हैं, कुछ लोग ऊंचाई और पानी से डरते हैं। जब व्यक्ति के अंदर का डर अपने चरम पर पहुंच जाता है, इसे मनोविज्ञान की भाषा में फोबिया (Phobia) कहा जाता है।

जानिए फोबिया के बारे में Phobia Kya Hai | What Is Phobia

इसमें व्यक्ति किसी स्थान, वस्तु, व्यक्ति या स्थिति से बहुत डरता है फोबिया किसी चीज के दैनिक डर से काफी अलग है क्योंकि यह किसी विशेष चीज के बारे में होता है। बहुत से लोग इस समस्या से पीड़ित हैं जिस वजह से उन्हें बहुत सी स्वास्थ्य समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है।

फोबिया के कारण ( Causes of Phobia in Hindi)

हालांकि Phobia के डर के पीछे बहुत सारे कारण हैं, मगर स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित अधिकांश लोगों को फोबिया होने का खतरा होता है। यह समस्या आमतौर पर बचपन, किशोरावस्था और वयस्कता के दौरान होता है।

How to be Healthy in Hindi, स्वस्थ रहने के लिए अपनाये यह 5 आदतें

फोबिया के लक्षण (Symptoms of Phobias in Hindi)

इस समस्या के लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न हो सकते हैं। इसके होने पर कुछ लोगों में पैनिक अटैक होता है। फोबिया के मुख्य लक्षण निम्नलिखित हैं।

  • दिल बहुत तेजी से धड़कना
  • सांस लेने में तकलीफ
  • बहुत तेज बोलना या एकदम नहीं बोल पाना
  • मुंह सूखना
  • पेट गड़बड़ होना
  • बहुत तेज गर्मी या ठंड लगना

फोबिया के प्रकार (Types of Phobia in Hindi)

फोबिया बहुत प्रकार का होता हैं जो की बहुत से कारणों पर निर्भर करता है जैसे की लिंग, सांस्कृतिक अनुभवों और उम्र पर आधारित हैं। यह हमारे रोज के जीवन को बहुत ज्यादा प्रभावित करता है। चिकित्सा और विज्ञान के अनुसार इसके बहुत से प्रकार हैं।

  • एगोराफोबिया
  • एस्ट्राफोबिया
  • एक्रोफोबिया
  • सोशल फोबिया
  • पोगोनोफोबिया
  • साइनोफोबिया
  • ओफिडिओफोबिया
  • निक्टोफोबिया
  • नोमोफोबिया
  • एब्लूटोफोबिया

फोबिया के जोखिम कारक (Phobia Risk Factors In Hindi)

चिंता की आनुवंशिक प्रवृत्ति वाले लोगों में फोबिया विकसित होने का अधिक खतरा हो सकता है। आयु, सामाजिक आर्थिक स्थिति और लिंग केवल कुछ फ़ोबिया के लिए जोखिम कारक प्रतीत होते हैं। उदाहरण के लिए, महिलाओं में जानवरों के फोबिया होने की संभावना अधिक होती है। कम सामाजिक आर्थिक स्थिति वाले बच्चों या लोगों में सामाजिक भय की संभावना अधिक होती है।

Health Care Tips in Hindi: 10 Health Care टिप्स सेहत के लिए

फोबिया का इलाज (Treatment of phobia in Hindi)

फोबिया एक गंभीर बीमारी नहीं है लेकिन सिर्फ एक समस्या है जिसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। संज्ञानात्मक व्यवहार थेरेपी और दवाओं का उपयोग फ़ोबिया के इलाज के लिए किया जाता है क्योंकि यह मस्तिष्क से जुड़ा होता है।

संज्ञानात्मक व्यवहार थेरेपी (सीबीटी)

सीबीटी थेरेपी डर की पहचान करने और किसी व्यक्ति के नकारात्मक विचारों और विश्वासों और नकारात्मक प्रतिक्रियाओं को दूर करने का प्रयास किया जाता है। उपचार करने में मुश्किल है लेकिन व्यक्ति के डर और चिंता को दूर करता है।

यदि आपको भी फोबिया है, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप उपचार की तलाश करें। फोबिया को नियंत्रित करना मुश्किल हो सकता है, लेकिन असंभव नहीं।

डिप्रेशन से कैसे लड़े? How to fight with depression?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here