Aatma Nirbhar Bharat Abhiyan Yojana 2020। आत्मनिर्भर भारत अभियान

9
493
Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan Yojana
Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan Yojana

Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan Yojana: (Self Reliant India Initiative and Package) – आइये जानें प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान (PM Aatmanirbhar Bharat Abhiyan) 2020 के लाभ, आर्थिक पैकेज, पात्रता व ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के बारे में।

देश में कोरोना वायरस की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है। ऐसी को ध्यान में रखते हुए Indian Economy को कोरोना वायरस (Coronavirus) की मार से उबारने के लिए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने दिनांक 12 मई 2020 को राष्ट्र को संबोधित करते हुए एक राहत पैकेज, आत्मनिर्भर भारत अभियान (PM Atmanirbhar Bharat Abhiyan) की शुरुआत की गई है।

Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan Yojana – आत्म निर्भर योजना

इस योजना के तहत (आत्मनिर्भर भारत अभियान 2020) 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की गई है, जो लगभग देश की जीडीपी का लगभग 10% है आत्मनिर्भर भारत अभियान (PM Aatmnirbhar Bharat Yojana) निश्चित रूप से एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा और एक आधुनिक भारत की पहचान बनेगा।

महत्वपूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज

आत्मनिर्भर भारत अभियान आर्थिक पैकेज | Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan (Self Reliant India Initiative and Package) – आइये जानें प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान (PM Aatmanirbhar Bharat Abhiyan) 2020 के लाभ, आर्थिक पैकेज, पात्रता व ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के बारे में।

Aatma Nirbhar Bharat Abhiyaan Yojana

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार
लाभार्थीदेश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्यसमृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि12 मई 2020
पैकेज की धनराशि20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://www.pmindia.gov.in/en/

किस क्षेत्र को कितना पैसा मिलेगा

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत किस किस क्षेत्र के लिए कितने कितने रुपए का प्रावधान किया गया है वो सब इस टेबल में दिया हुआ है।

घोषणालागत (करोड़ रूपये में)
RBI द्वारा दी गयी राहतें8,01,603
22 मार्च 2020 से कर रियायतें7,800
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज170,000
स्वास्थय क्षेत्र के लिए पीएम की घोषणा15,000
MSME सहित व्यवसायों के लिए W/C सुविधा3,00,000
तनवग्रस्त MSME के लिए Subordinate Loan20,000
MSME के लिए फ़ंड ऑफ फंड्स50,000
व्यापार और एमएसएमई के लिए EPF समर्थन2800
EPF दरों में कमी6,750
NBFC / HFC / MFI के लिए विशेष liquidity योजना30,000
NBFC / HFC / MFI के देनदाताओं के लिए आंशिक क्रेडिट गारंटी स्कीम 2.045,000
DISCOMs के लिए Liquidity90,000
TDS/TCS दरों में कमी50,000
दो महीने से फंसे हुये प्रवासी मजदूरों के लिए मुफ्त अनाज की सुविधा3,500
MUDRA शिशु ऋण के लिए ब्याज में छूट1,500
स्ट्रीट वेंडेर्स को विशेष क्रेडिट सुविधा5,000
PMAY CLSS-MIG योजना के लिए70,000
नाबार्ड के माध्यम से अतिरिक्त आपातकालीन वर्किंग कैपिटल30,000
KCC के माध्यम से अतिरिक्त क्रेडिट2,00,000
माइक्रो फूड एंटरप्राइजेज़10,000
प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना20,000
टॉप से टोटल तक – ऑपरेशन ग्रीन्स500
एग्रिकल्चर इनफ्रास्ट्रक्चर फ़ंड1,00,000
एनिमल हज़्बैंड्री इनफ्रास्ट्रक्चर डेव्लपमेंट फ़ंड15,000
हर्बल खेती को बढ़ावा4,000
मधुमख्खी पालन की पहल500
विएबिलिटी गैप फंडिंग8,100
अतिरिक्त MGNREGS आवंटन40,000
कुल योग20,97,053

आत्मनिर्भर भारत अभियान के लाभार्थी

  • देश का गरीब नागरिक
  • श्रमिक
  • प्रवासी मजदूर
  • पशुपालक
  • मछुआरे
  • किसान
  • संगठित क्षेत्र व असंगठित क्षेत्र के व्यक्ति
  • काश्तकार
  • कुटीर उद्योग
  • लघु उद्योग
  • मध्यमवर्गीय उद्योग

अभियान का निष्कर्ष

आज भारत के सामने एक बहुत बड़ी चुनौती इस आपदा के रूप में खड़ी है इस योजना से जरूर भारत में आत्मनिर्भरता आत्मबल और आत्मविश्वास बढ़ेगा।

9 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here